Homeहिमाचलगणतंत्र दिवस के अवसर पर पांवटा साहिब में उपमंडल स्तरीय कार्यक्रम आयोजित

गणतंत्र दिवस के अवसर पर पांवटा साहिब में उपमंडल स्तरीय कार्यक्रम आयोजित

हिमवंती मीडिया/पांवटा साहिब

73वें गणतंत्र दिवस के अवसर पर पांवटा साहिब में उपमंडल स्तरीय समारोह में बतौर मुख्यातिथि उप मंडल दंड़ाधिकारी विवेक महाजन ने राजकीय आदर्श कन्या वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला पांवटा साहिब में ध्वजारोहण कर आकर्षक मार्चपास्ट की सलामी ली।

मार्चपास्ट के दौरान परेड कमांडर हेडकॉस्टेबल विनय कुमार ने परेड में शामिल आठ टुकड़ीयों का नेतृत्व किया। पुलिस पुरूष टुकड़ी की अगुवाई जीत सिंह नेगी ने की, भूतपूर्व सैनिकों की टुक्कड़ी की अगुवाई कमांडर दर्शन सिंह ने की जबकि राजकीय बालक वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला तारूवाला से एनएसएस टुक्कड़ी की अगुवाई दलीप कुमार तथा एनसीसी टुक्कड़ी का नेतृत्व फैजान अली ने की।

राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला पांवटा साहिब की एनएसएस टुक्कड़ी की अगुवाई साक्षी रांटा ने की। राजकीय महाविद्यालय पांवटा साहिब की एनसीसी टुक्कड़ी का नेतृत्व टिया कुमारी ने किया तथा एनएसएस टुक्कड़ी की अगुवाई विपाशा ने की। प्लाटून कमांडर कृष्णा की अगुवाई में गुरुनानक मिशन स्कूल से कृष्णा बैंड की टुकड़ी ने भाग लिया।

इससे पूर्व मुख्यातिथि ने शहीद स्मारक पर श्रद्धा सुमन अर्पित कर शहीदों को श्रद्धांजलि दी। विवेक महाजन ने अपने सम्बोधन में कहा कि गणतंत्र दिवस हमारे देश के लिए बड़ा महत्वपूर्ण दिन है। इस दिन हर एक भारतवासी उस दिन को याद करता है, जब हमारा देश संवैधानिक रूप से एक स्वतंत्र गणराज्य बना और देश को अपना संविधान मिला तथा देश में कानून राज स्थापित हुआ।इस दिन हम सब को यह वादा करना चाहिये कि हम अपने देश के संविधान की सुरक्षा करेंगे, देश की एकता और शांति को बनाए रखेंगे और साथ ही देश के विकास में सहयोग करेंगे।

उन्होंने कहा कि इस दिन हमने ग़ुलामी के सभी प्रतिकों व चिन्हों को पीछे छोड़ नव भारत का निर्माण किया और देश की अर्थव्यवस्था, राष्ट्रीय स्रोतों तथा सुरक्षा को बढ़ाने में लगे जिसका परिणाम है कि देश आज दुनिया के अग्रणी देशों में से एक है।

उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश एक छोटा सा पहाड़ी राज्य है जो प्रचुर प्राकृतिक सम्पदा से सपन्न भी है, लेकिन विषम परिस्थितियों व चुनौतियों के होते हुए भी हमारे हौसले से बुलंदी हमेशा हमारे साथ रही है और हिमाचल अग्रिम राज्यो की श्रेणी में खड़ा है। पिछले एक दशक से हिमाचल शिक्षा और स्वास्थ्य में अव्वल दर्जे पर क़ायम है।

उन्होंने कहा कि गुरु की नगरी पांवटा साहिब, जहां कल-कल करती यमुना बहती है, यहाँ हम ऊर्जा मंत्री के दिशा निर्देशों अनुसार निरंतर विकास के लिए तत्पर हैं। उन्होंने कहा कि बहुत ही कम समय में पांवटा साहिब ने बहुत तरक़्क़ी की है। उन्होंने कहा कि आम जन को हर क्षेत्र में उत्कृष्ट सेवाएँ देने के लिए हम प्रतिबद्ध है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments