Homeहिमाचलरोजगार योग्यता कौशल पर प्रशिक्षण के लिए तकनीकी शिक्षा विभाग और क्वेस्ट...

रोजगार योग्यता कौशल पर प्रशिक्षण के लिए तकनीकी शिक्षा विभाग और क्वेस्ट एलायंस के मध्य समझौता ज्ञापन पर हुए हस्ताक्षर

हिमवंती मीडिया/शिमला
तकनीकी शिक्षा, व्यावसायिक और औद्योगिक प्रशिक्षण विभाग हिमाचल प्रदेश के एक प्रवक्ता ने बताया कि तकनीकी शिक्षा विभाग ने प्रशिक्षकों के प्रशिक्षण के लिए फ्यूचर राइट स्किल्स नेटवर्क के साथ एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए हैं। फ्यूचर राइट स्किल्स नेटवर्क एक्सेंचर, सिस्को और जेपी माॅर्गन का एक सहयोगी प्रयास है और गैर-लाभकारी क्वेस्ट एलायंस द्वारा सुविधा प्राप्त है।
उन्होंने बताया कि समझौता ज्ञापन पर विवेक चंदेल, निदेशक, तकनीकी शिक्षा और वेणुगोपाल थिरुमलपाद, निदेशक क्वेस्ट एलायंस, बेंगलुरु ने हस्ताक्षर किए। इस अवसर पर सुनील वर्मा, संयुक्त निदेशक (टीई), संजय गुप्ता उप निदेशक, प्रशिक्षण तकनीकी शिक्षा निदेशालय से और एम.एस. महला कार्यक्रम समन्वयक, सुलभ कुमार एसोसिएट निदेशक और संजना बिनवाल कार्यक्रम अधिकारी क्वेस्ट एलायंस उपस्थित थे।
प्रवक्ता ने बताया कि हिमाचल प्रदेश के 138 राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों के सभी एम्प्लाॅयबिलिटी स्किल्स के ट्रेनर को इस समझौते के तहत प्रशिक्षित किया जाएगा, जिससे आई.टी.आई. के लगभग 35,000 प्रशिक्षुओं को लाभ मिलेगा। इस प्रशिक्षण कार्यक्रम का पूर्ण व्यय क्वेस्ट एलायंस द्वारा वहन किया जाएगा और राज्य कोष पर इसका कोई वित्तीय भार नहीं पड़ेगा।
 उन्होंने बताया कि पहले चरण में 10 मास्टर प्रशिक्षकों को पाठ्यक्रम  का उपयोग करके प्रशिक्षित किया जाएगा। मास्टर प्रशिक्षक क्वेस्ट एलायंस के सहयोग से सभी सरकारी आईटीआई में एम्प्लाॅयबिलिटी स्किल्स पाठ्यक्रम के प्रभारी प्रशिक्षकों को प्रशिक्षित करेंगे। कार्यक्रम में वेबिनार, पठन सामग्री, वीडियो पाठ्यक्रम, असाइनमेंट आदि जैसे आभासी और भौतिक माॅडल के माध्यम से 50 घंटे के रोजगार योग्यता कौशल पाठ्यक्रम, नए एम्प्लाॅयबिलिटी स्किल्स पाठ्यक्रम, एम्प्लाॅयबिलिटी स्किल्स क्लासेस को कैसे सुगम बनाया जाए और आईआईटी के एम्प्लाॅयबिलिटी स्किल्स करिकुलम रोल आउट को कैसे व्यवस्थित किया जाए, विषय में प्रशिक्षण दिया जाएगा। प्रशिक्षण उपरान्त यह प्रशिक्षक छात्रों को एक मिश्रित पद्धति का उपयोग करके रोजगार योग्यता कौशल पर प्रशिक्षण देंगे, जिसमें क्वेस्ट ऐप का भी उपयोग किया गया है।
क्वेस्ट ऐप के माध्यम से रोजगार कौशल, डिजिटल साक्षरता और प्रवाह, कार्यस्थल की तैयारी जैसे रचनात्मक समस्या समाधान और निर्णय लेने में डेटा उपयोग, कैरियर प्रबंधन कौशल, विकास की मानसिकता एवं प्रशिक्षुओं के लिए कैरियर यात्रा की पहचान करने और योजना बनाने की क्षमता में कौशल विकसित करने के लिए 90 घंटे से अधिक का प्रशिक्षण प्रदान करेगा। उन्होंने बताया कि अगले तीन वर्षों की साझेदारी का रणनीतिक लक्ष्य कुशल कार्यबल की दुनिया में भारत के प्रशिक्षकों और प्रशिक्षुओं को महत्वपूर्ण कौशल से परिपूर्ण करना है।
उन्होंने बताया कि नए जारी किए गए एम्प्लाॅयबिलिटी स्किल्स पाठ्यक्रम का उपयोग करते हुए एक एम्प्लाॅयबिलिटी स्किल टूलकिट, जिसमें अंग्रेजी संचार, जीवन कौशल, डिजिटल कौशल, कक्षाओं में खेल-खेल में अन्य गतिविधियों के साथ-साथ सेल्फ लर्निंग डिजिटल एप्लिकेशन के माध्यम से काम करना इत्यादि एम्प्लाॅयबिलिटी स्किल्स विषय की समझ को आसान बनाएगी। प्रशिक्षण के बाद कैस्केड एम्प्लाॅयबिलिटी स्किल ट्रेनिंग आॅफ ट्रेनर्स के माध्यम से एम्प्लाॅयबिलिटी स्किल ट्रेनर्स की क्षमता निर्माण और गेस्ट लेक्चर, इंडस्ट्री एक्सपो, छात्रों और प्रशिक्षकों के लिए शिक्षण और शिक्षण सहायता साझा की जाएगी।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments