वैल्फेयर सोसाईटी के रक्तदान शिविर में उमडी युवाओं की भीड

0
9
बीबीएन(कविता गौत्तम):- रोटरी ब्लड बैंक व पीजीआई समेत अन्य अस्तपालों में गर्मी के मौसम में आई रक्त की कमी को पूर्ण करने के लिए बददी की संस्था ने जो रक्तदान शिविर आयोजित किया उसमें रक्तदाताओं विशेषकर युवाओं ने बढ चढ कर भाग लिया। जब रक्त लेने के प्रबंध समाप्त हो गए तो रोटरी ब्लड बैंक की टीम ने युवाओं को हाथ जोडकर लौटा दिया कि अब समय समाप्त हो गया। एक तो तपती गर्मी और दूसरी कोरोना की मार तो यह लग रहा था कि लोग रक्त देने की नहीं आएंगे लेकिन युवाओं ने अपने देश धर्म व समाज के प्रति दायित्व को निभाने के लिए हर बाधा को पार किया। रक्तदान शिविर में आयोजकों की तीनों कंपनियों के अलावा आसपास के उद्योगों व स्थानीय लोगों ने भाग लिया जिसमें 132 यूनिट रक्त जुटाए गए।
रोटरी ब्लड बैंक ने डा. रोली अग्रवाल के नेतृत्व में रक्त एकत्रित किया। डा. अग्रवाल ने कहा कि 18 से लेकर 60 साल तक कोई भी स्वस्थ व्यक्ति साल में चार बार रक्त दे सकता है और इसके करने से किसी भी प्रकार की कमजोरी नहीं आती है। बददी की सामाजिक संस्था अमित सिंगला सोशल वैल्फेयर फाऊंडेशन सोसाइटी ने जुडी कलां काठा में अपने परिसर में रक्तदान शिविर का आयोजन किया, जिसका शुभारंभ शहरी भाजपा अध्यक्ष एवं पार्षद वार्ड 6 तरसेम चौधरी ने किया।
कार्यक्रम की अध्यक्षता फाऊंडेशन के चेयरमैन डा. सुमित सिंगला व निदेशक रिशू सिंगला ने की। सिंगला ने बताया उनको चंडीगढ रोटरी ब्लड बैंक से फोन आया कि गर्मियों में अस्पतालों में रक्त की कमी हो गई है और घायलों, गर्भवर्ती महिलाओं समेत अन्य मरीजों के लिए रक्त की जरुरत है। सोसाईटी ने 8 अप्रैल को रक्तदान शिविर का आयोजन करने का निर्णय लिया। इस दिन कयोरटैक के संस्थापक स्व. अमित सिंगला का जन्म दिन होता है। एक सडक हादसे में इस युवा उद्यमी अमित की मौत हो गई थी और उसके बाद से ही उनके परिवार ने उनके नाम पर एक ट्रस्ट बनाकर सामाजिक कार्य करने का प्रण लिया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here