अगले शैक्षणिक सत्र से छात्रों को फिल्म, टेलिविजन और म्यूजिक में शिक्षा व ट्रेनिंग प्राप्त करने का अवसर प्रदान करेगा एपी गोयल शिमला यूनिवर्सिटी

0
139

( शैक्षणिक सत्र जुलाई से शुरू होंगी पढ़ाई )

शिमला, मार्च 5

पिछले कल बुधवार को देश व बॉलीवुड की जानी-मानी आदित्य पंचोली और जावेद खान की  स्टारड्म फिल्म, टेलिविजन एवं अकैडमी  और स्थानीय एपी गोयल शिमला यूनिवर्सिटी के बीच एक एमओ हस्ताक्षर किया गया। इस एमओ पर एपी गोयल शिमला यूनिवर्सिटी की ओर से कुलपति प्रोफेसर डॉ॰ रमेश कुमार चौधरी और फिल्म, टेलिविजन व म्यूजिक अकैडमी की ओर से आदित्य पंचोली और जावेद खान मोहसीन शेख ने हस्ताक्षर किए। दोनों संस्थान मिलकर एपीजी शिमला में पढ़ने वाले छात्र, हिमाचली छात्र, भारत सहित विदेशी छात्रों को स्टारड्म फिल्म, टेलिविजन व म्यूजिक अकैडमी के बैनर तले एपीजी शिमला यूनिवर्सिटी में फिल्म मेकिंग, टेलिविजन प्रबंधन, थिएटर सहित संगीत में सर्टिफिकेट कोर्स, डिप्लोमा व स्नातक की पढ़ाई के साथ-साथ अगले शैक्षणिक सत्र जुलाई  से  ट्रेनिंग  उपलब्ध करवाने जा रहे हैं  जिसके प्रबंधन के लिए यूनिवर्सिटी प्रशासन ने पूरी तैयारी कर रखी है। इस अवसर पर  एपीजी शिमला यूनिवर्सिटी के कुलपति प्रोफेसर डॉ॰ रमेश कुमार चौधरी ने कहा कि यह एपीजी शिमला यूनिवर्सिटी सहित हिमाचल प्रदेश के लिए गौरव की बात है कि देश के जाने-माने फिल्म प्रॉडक्शन, टेलिविजन व म्यूजिक अकैडमी के निर्माता आदित्य पंचोली और जावेद खान मोहिसिन शेख ने एपीजी शिमला यूनिवर्सिटी व हिमाचल प्रदेश को इस योग्य समझा कि हमारे  हिमाचल प्रदेश में अनेकों प्रतिभावान छात्र-छात्राएँ हैं पर उन्हें निखारने के लिए प्लेटफॉर्म नहीं मिलता और अब एपीजी शिमला यूनिवर्सिटी ये अवसर अपने ही प्रदेश में उपलब्ध करवाने जा रहा हैं ताकि छात्र-छात्राएँ फिल्म मेकिंग, एक्टिंग, टेलिविजन प्रॉडक्शन, म्यूजिक और संगीत में पढ़-लिख व ट्रेनिंग हासिल कर रोजगार सृजित कर सकें और  दूसरों को भी रोजगार प्रदान कर  सकें। कुलपति चौधरी ने कहा कि एपीजी शिमला यूनिवर्सिटी में शुरुआत में एक्टिंग, म्यूजिक, फिल्म-मेकिंग वाले सर्टिफिकेट कोर्स, डिप्लोमा कोर्स और तीन बर्षीय स्नातक कोर्स चलाए जाएंगे और स्टारड्म फिल्म, टेलिविजन व म्यूजिक अकैडमी एपीजी शिमला यूनिवर्सिटी को अनुभवी ट्रेनर, व्यावसायिक लेक्चरर के साथ प्रॉडक्शन के सभी प्रकार के उपकरण भी प्रदान करेगा। कुलपति ने कहा कि इस तरह के कोर्स करवाने  के लिए पहले माता-पिता अपने बच्चों को बॉम्बे भेजने से हिच-चकाते थे लेकिन अब अपने ही प्रदेश में एपीजी शिमला यूनिवर्सिटी ये अवसर प्रदान करने जा रहा है। उन्होंने कहा कि यूनिवर्सिटी में बॉलीवुड से फिल्म-निर्माता व सेलेब्रिटी भी समय-समय पर छात्रों को ट्रेनिंग देते रहेंगे और छात्रों फिल्म इंडस्ट्री में भी ट्रेनिंग व फिल्मों में जाने का मौका मिलेगा। कुलपति चौधरी ने खुशी जाहीर करते हुए कहा कि इस तरह और प्रिटीजिंटा और कंगना रनौत जैसी फिल्म-हस्तियों को निखारा जा सकता है या कोई फिल्म-निर्माण में महारित हासिल कर सकता है। इस ज्ञापन समझौते के दौरान यूनिवर्सिटी सलाहकार अनंत राम चौहान, कुलसचिव डॉ॰ आर॰ के॰ कायस्थ भी मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here