राजगढ़ शहर की सफाई व्यवस्था को 15 दिन में किया जाएगा दुरूस्त -गर्ग

0
105

राजगढ़ ( चौहान )-
शहर की सफाई व्यवस्था को देखकर नगर पंचायत राजगढ़ के नवनियुक्त सचिव अजय गर्ग अक्रामक मुद्रा में दिखाई दिए और उन्होने सफाई कर्मचारियों की आपात बैठक बुलाकर 15 दिन के भीतर शहर की सफाई व्यवस्था को चुस्त-दुरूस्त करने के निर्देश दिए। बता दें कि नगर पंचायत राजगढ़ को 14 वर्षों के उपरांत स्थाई सचिव मिला है । इससे पहले नपं सचिव का चार्ज स्थानीय एसडीएम अथवा तहसीलदार के पास ही रहा है और प्रशासनिक अधिकारी अपनी व्यस्तताओं के कारण शहर के विकास को उपयुक्त समय नहीं दे पाते थे । नपं राजगढ़ को स्वच्छता का कुछ माह पूर्व अवार्ड भी मिला था परंतु शहर में कचरा के ओवरफलो होते कूड़ादान की गंदगी से हर व्यक्ति परेशान था । सचिव ने कहा कि किसी भी शहर के विकास का मूल्याकन उसकी सफाई व्यवस्था से किया जाता है और शहर को स्वच्छ एवं पॉलीथिन मुक्त बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ी जाएगी। शहर की सफाई के लिए अनुबंधित की गई एजेंसी ईश्वरदास एंड संज को सचिव द्वारा दो टूक शब्दों में कहा कि यदि शहर की सफाई का कार्य संतोषजनक नहीं होगा तो उनका टैंडर रदद किया जा सकता है और इस कार्य के लिए पुनः टैंडर भी करवाए जा सकते हैं । उन्होने ठेकेदार को निर्देश दिए कि सफाई कर्मचारियों को मास्क, दस्ताने और रेनकोट उपलब्ध करवाए जाएं क्योंकि कर्मचारियों की सुरक्षा और निर्धारित सुविधाऐं उपलब्ध करवाना नगर पंचायत की जिम्मेवारी है। अजय गर्ग ने डोर टू डोर कचरा एकत्रित करने वाले कर्मचारियों को निर्देश दिए कि लोगों को गीला और सूखा कचरा अलग अलग रखने बारे भी जानकारी दी जाए । इसके अलावा कोई भी सफाई कर्मचारी कूड़ा कचरा को नहीं जलाएगा । उन्होने कहा कि गीला कचरा से निकलने वाली गैस बहुत जहरीली और खतरनाक होती है जिससे मनुष्य के स्वास्थ्य पर कुप्रभाव पड़ता है । उन्होने कहा कि पुराने बस स्टैंड पर बने शौचालय की दशा सुधारने के लिए इसकी बिना लाभ कमाए नीलामी की जाएगी ताकि शहर में बाहर से आए लोगों को प्रसाधन की बेहतर सुविधा मिल सके । इससे पहले नपं सचिव द्वारा शहर के वार्ड नंबर 4 का भी दौरा किया गया और सफाई व्यवस्था को लेकर स्वयं सहायता समूहों की महिलाओं से बातचीत की गई । उन्होने बताया कि शहर में सभी दुकानदारों को बेग उपलब्ध करवाए जाएंगे ताकि घरों में विभिन्न वस्तुओं में इस्तेमाल होने वाले प्लाटिक को बेग में रखा जा सके । उन्होने महिलाओं से आग्रह किया कि वह शहर को स्वच्छ और पॉलिथीन मुक्त बनाने में अपना योगदान दे। बैठक में कनिष्ठ अभियंता घनश्याम शर्मा, सफाई पर्यवेक्षक रामेश्वर, लेखाकार विद्या शर्मा, सुरक्षा, मीरा तोमर , सफाई ठेकेदार मुकेश के अतिरिक्त सभी सफाई कर्मचारियों ने भाग लिया ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here