Homeहिमाचलमारकंडा नदी पर 27.50 करोड़ रुपये लागत के दो नये पुलों की...

मारकंडा नदी पर 27.50 करोड़ रुपये लागत के दो नये पुलों की नाहन क्षेत्र को मिली बड़ी सौगात – डॉ. बिन्दल

हिमवंती मीडिया/नाहन

सेंट्रल रोड़ फंड के अन्तर्गत नाहन विधानसभा क्षेत्र के दो अत्यंत महत्वपूर्ण पुलों के निर्माण के लिए 27.50 करोड़ रुपये की धनराशि की सौगात हासिल हुई है। मारकंडा नदी पर बनने वाले इन पुलों से स्थानीय ग्रामीणो का जीवन अब आसान हो जाएगा, जबकि पूर्व में इस नदी की वजह से इनका जीवन दूभर बना हुआ था। नाहन विधानसभा क्षेत्र के लिए प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी, भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नडडा मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर की ओर से सौगात माना जा रहा है जिसके लिए उनका हृदय से आभार प्रकट किया गया है।

विधायक एवं पूर्व विधानसभा अध्यक्ष डॉ. राजीव बिन्दल ने यह जानकारी नाहन में मीडिया से सांझा करते हुए कहा कि मारकंडा नदी जो नाहन विधानसभा क्षेत्र के विकास के लिए बाधक थी, लोगों के आवागमन के लिए बरसात में भारी परेशानी का सबक थी, अब यह मारकंडा नदी जीवनदायनी बन कर उभरेगी।
आजादी के बाद से तक कालाआम इलाके के लिए मारकंडा नदी को पार करने के लिए हरियाणा में निर्मित पुल पर से ही जाना पड़ता था। प्रदेश की जयराम ठाकुर सरकार और केन्द्र की नरेन्द्र मोदी भाजपा सरकार के आशीर्वाद से मारकंडा नदी पर शानदार पुल बनेगा जिससे हिमाचल से हिमाचल में जाने के लिए अब बैरियर समाप्त हो जाएंगे।

ग्राम पंचायत शंभुवाला का कून गांव, नैहरला गांव, मक्कड़वाली गांव, ये ऐसे गांव हैं जो मारकंडा नदी पर पुल न होने से पूरी बरसात में टापू में रहने को मजबूर थे, उन्हें अब ‘‘डबल ब्रिज’’ का तोहफा दिया गया है। इन पुलों से मारकंडा नदी के समस्त इलाके पुलों से जुड जाएंगे।डॉ. बिन्दल के प्रयासों से मारकंडा नदी पर बना बनकला का पुल, मारकंडा नदी पर बना देवनी सलानी का पुल, मारकंडा नदी पर बना ढिमकी का पुल, मारकंडा सहायक नदी पर रूण पर बना अँधेरी का पुल, मारकंडा की सहायक नदी मझाडा खडड पर बना मझाड़ा पुल, मारकंडा की सहायक नदी त्रिलोकपुर पर बना बुढडियो का पुल, मारकंडा नदी पर निर्माणाधीन रूखड़ी का पुल, मारकंडा नदी की सहायक नदी बलसार खडड पर बलसार का पुल (निर्माणाधीन, मारकंडा की सहायक नदी रूण पर बनेगा भोगपुर सिंबलवाला का पुल (प्रशासनिक स्वीकृति)।

अन्य पुलों की बात करें तो, मारकंडा की सहायक नदी पर जाबल का बाग कंडईवाला सड़क पर गदपेला के पुल को प्रशासनिक स्वीकृति मिल गई है। मारकंडा की सहायक नदी बकारला खडड पर निर्माणाधीन बकारले का पुल, मारकंडा की सहायक नदी रूण पर बनाना है नैरों कोटडी के पुल लक्ष्य निर्धारित किया गया है। मारकंडे की नदी नीमवाली पर बनाया गया नीमवाली का पुल हरियाणा के सहयोग से सीआरएफ के तहत 9 करोड़ से निर्मित हुआ है।

धौलाकुआं से परदूणी के मध्य बनाए गए तीन पुल, कोदेवाला सड़क पर बनाए गए दो पुल, लोह गढ़ सड़क पर बनाया गया एक पुल, भगतांवाला में लगाए जा रहे चार छोटे पुल, पालियो पंचायत की गुमटी में लगाए जा रहे चार छोटे पुल। भावी लक्ष्य में महत्वपूर्ण माजरा क्षेत्र का फतेहपुर-गुलाबगढ़ का पुल ( सीआरएफ के अन्तर्गत स्वीकृति का इंतजारद्ध झील बांकाबाड़ा में निर्मित होगा झील का पुल।

मारकंडा की सहायक नदी पर बनाया गया खैरी के नाले का पुल, मारकंडे की सहायक नदी पत्थराला का खाला पर निर्माणाधीन पुल, मारकंडे की सहायक नदी, दो घाट खाले पर बनाया गया शानदार पुल। मारकंडा नदी पर बनेगा मंडेरवा का पुल, मारकंडा की सहायक नदी सलानी पर हरिजन बस्ती का पुल और भी अनेक छोटे बड़े पुलों का निर्माण जा रही है।

लगातार सत्ता में रही कांग्रेस पार्टी ने नाहन विधानसभा क्षेत्र की जनता को, बिना पुलों के, बिना सड़कों क,े दो-राहे पर छोड़ दिया था। जनता केवल वोट देने की मशीन थी, जाति, धर्म और संप्रदाय के आधार पर वोट मांगते रहे।
अब पुलों के निर्माण ने, सड़कों के निर्माण ने जनता की आंखें खोल कर रख दी हैं। पुल बन गए हैं, सड़क बन रही हैं, उस पर सभी जाति धर्म के लोग आवागमन करेंगे, सभी को लाभ होगा।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments